पीएम मोदी की यूरोप की 3-राष्ट्र यात्रा: महत्वपूर्ण बिंदु

प्रिय उम्मीदवारों,

भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी स्वीडन, ब्रिटेन और जर्मनी में यूरोप की तीन देशों की यात्रा पर थे. उन्होंने  यात्रा के दौरान विभिन्न महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर किए और विभिन्न सम्मेलनों में भाग भी लिया है. पीएम मोदी की 3-राष्ट्रीय यात्रा के संबंध में महत्वपूर्ण बिंदु निम्नलिखित हैं.

1.नरेंद्र मोदी दौरे में ब्रिटेन भी अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल हुआ 

i.प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटेन यात्रा से पहले, ब्रिटेन भारत के नेतृत्व वाले अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (ISA) में शामिल हो गया है.
ii.कॉमनवेल्थ हेड्स ऑफ गवर्नमेंट मीटिंग 2018 (CHOGM) के हिस्से के रूप में लंदन स्टॉक एक्सचेंज में आयोजित एक कार्यक्रम में, ब्रिटेन ने औपचारिक रूप से गठबंधन की अपनी सदस्यता की घोषणा की, जिसका उद्देश्य निजी और सार्वजनिक वित्त के लिए 1 ट्रिलियन डॉलर का निजी और सार्वजनिक वित्त जुटाना है ताकि 2030 तक सभी के लिए सस्ती और टिकाऊ ऊर्जा प्रदान की जा सके.
2. 3 -राष्ट्र दौरे के पहले चरण में, मोदी की स्वीडन यात्रा: 
i.प्रधान मंत्री मोदी यूरोप के अपने तीन-राष्ट्र दौरे के पहले चरण के लिए स्वीडन के लिए निकले.
ii.1988 में राजीव गांधी की यात्रा के 30 साल बाद, यह भारत से स्वीडन की पहली प्रधान मंत्री यात्रा थी.
iii.मोदी ने स्वीडिश प्रधान मंत्री स्टीफन लोफवेन के साथ द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन आयोजित किया.
iv.भारत और स्वीडन ने पहले भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन की सह-मेजबानी की, जहां डेनमार्क, फिनलैंड, आइसलैंड और नॉर्वे के अन्य चार नॉर्डिक देशों के प्रधान मंत्री भी मौजूद थे.
v.प्रधान मंत्री मोदी ने शीर्ष स्वीडिश सीईओ के साथ एक बैठक आयोजित की.
vi. स्वीडन में कंपनियों, यूरोप में सबसे बड़ी नॉर्डिक अर्थव्यवस्था ने, भारत में 1.1 अरब डॉलर का निवेश किया है.
vii. उन्होंने स्वीडन, डेनमार्क और आइसलैंड के साथ विभिन्न समझौतों पर हस्ताक्षर किए.
3. 3-राष्ट्र यात्रा में मोदी का दूसरा चरण ब्रिटेन है: 


i. प्रधान मंत्री मोदी ने लंदन में प्रतिष्ठित सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर से ‘भारत की बात, सबके साथ’ नामक वैश्विक स्तर पर प्रसारित लाइव कार्यक्रम में दुनिया को संबोधित किया. 
ii.प्रधानमंत्री मोदी और 52 अन्य नेताओं ने लंदन, बकिंघम पैलेस में राष्ट्रमंडल प्रमुख सरकारी बैठक (CHOGM) में भाग लिया. वे विंडसर कैसल में नेताओं के रिट्रीट के लिए सरकार के अन्य प्रमुखों में शामिल हो गए, जिन्होंने यूके में राष्ट्रमंडल प्रमुख की सरकारी बैठक (CHOGM) का निष्कर्ष निकाला.
iii. प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी ब्रिटिश समकक्ष थेरेसा में के साथ द्विपक्षीय वार्ता की. आतंकवाद विरोधी सहयोग चर्चा का मुख्य एजेंडा था. मोदी और मे आतंकवाद के खिलाफ अपनी सभी अभिव्यक्तियों में “निर्णायक और संगठित कार्यवाही” करने पर सहमत हुए.
iv. श्री मोदी ने थॉमस नदी के तट पर अल्बर्ट तटबंध गार्डन में 12वीं शताब्दी के लिंगायत दार्शनिक और सामाजिक सुधारक बसेश्वरा की अर्ध-मूर्ति पर पुष्पांजलि अर्पित की.
v. प्रिंस चार्ल्स द्वारा विस्तारित विशेष निमंत्रण पर, मोदी एक दशक में इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले पहले भारतीय प्रधान मंत्री बने.
4.3 राष्ट्र यात्रा में मोदी के तीसरे चरण में जर्मनी की यात्रा है:


i.प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बर्लिन में जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल के साथ द्विपक्षीय वार्ता की और दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की.
ii.यूके, स्वीडन और जर्मनी में मोदी के तीन-राष्ट्र दौरे का यह तीसरा और अंतिम चरण था. प्रधान मंत्री बर्लिन से दिल्ली पहुंचे.
नाबार्ड ग्रेड-A परीक्षा 2018 के लिए मुख्य तथ्य-
  • स्वीडन राजधानी-स्टॉकहोल्म, मुद्रा-स्वीडिश क्रोना
  • डेनमार्क राजधानी-कोपेनहेगेन, मुद्रा-डेनिश क्रौन 
  • आइसलैंड राजधानी-रिकिविक, मुद्रा- आइसलैंडिक क्रोना 
  • दि यूनाइटेड किंगडम राजधानी-लन्दन, मुद्रा-ब्रिटिश पौंड 
  • जर्मनी राजधानी-बर्लिन, मुद्रा-यूरो, चांसलर-एंजेला मर्केल
  • नार्डिक देशों में शामिल हैं स्वीडन, नॉर्वे, फ़िनलैंड, डेनमार्क और आइसलैंड.
Advertisements

One thought on “पीएम मोदी की यूरोप की 3-राष्ट्र यात्रा: महत्वपूर्ण बिंदु

Add yours

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s

A WordPress.com Website.

Up ↑